Breaking News
पीएम मोदी के पैर छूकर नीतीश कुमार ने किया बिहार को शर्मसार- प्रशांत किशोर
महाराज ने वाहन दुर्घटनाओं पर जताया अफसोस
विद्या बालन की फिल्म दो और दो प्यार ओटीटी प्लेटफॉर्म डिज्नी+ हॉटस्टार पर हुई रिलीज
राज्यपाल ने ली पेयजल विभाग के उच्चाधिकारियों की बैठक 
डिप्रेशन दूर करने में जब दवा काम ना आए तो आजमा कर देखिए ये कुदरती तरीका
गुमखाल के निकट खाई में गिरा वाहन, कई लोग घायल
गृहमंत्री अमित शाह जम्मू-कश्मीर में हुए आतंकवादी हमलों के मद्देनजर सुरक्षा स्थिति का लेंगे जायजा
दून व ऋषिकेश के नालों- नालियों की सफाई जारी
मुख्यमंत्री धामी ने वाहन दुर्घटना में मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख की आर्थिक सहायता प्रदान करने के दिये निर्देश 

प्रदेश में अक्टूबर आखिर में लागू होगा यूसीसी कानून, 50 फीसदी से अधिक हो चुका नियमावली का ड्राफ्ट तैयार

यूसीसी के तहत विवाह और लिव इन में रहने के लिए पंजीकरण की होगी ऑनलाइन सुविधा 

देहरादून। देश में सबसे पहले समान नागरिक संहिता (यूसीसी) का कानून बनाने के बाद अब उत्तराखंड की धामी सरकार इसे लागू करने की तैयारी में है। प्रदेश में यूसीसी कानून अक्टूबर आखिर तक लागू हो सकता है यूसीसी की नियमावली का ड्राफ्ट बनाने का काम 50 फीसदी से अधिक हो चुका है और अगले ढाई महीनों में नियमावली बनाने का काम पूरा हो जाएगा, लेकिन इसे लागू करने में थोड़ा और समय इसलिए लगेगा, क्योंकि इसके लिए पंचायत और निकाय स्तर पर कर्मचारियों को प्रशिक्षण की आवश्यकता होगी। गृह विभाग को इस संबंध में प्रशिक्षण कार्यक्रम तैयार करने के निर्देश दे दिए गए हैं।

एक्ट के तहत विवाह और लिव इन में रहने के लिए पंजीकरण की ऑनलाइन सुविधा भी होगी। इसके लिए वेबसाइट व पोर्टल बनाने का 70 फीसदी काम पूरा हो चुका है। यूसीसी की नियमावली बनाने का काम पूर्व मुख्य सचिव शत्रुघ्न सिंह की अध्यक्षता में गठित नौ सदस्यीय समिति कर रही है। समिति को यह कार्य फरवरी के दूसरे हफ्ते में दिया गया था। तब से अब तक समिति ने आधी नियमावली तैयार कर ली है और अब समिति को इस कार्य को निपटाने में मुश्किल से ढाई महीने का समय लगेगा। समिति के अध्यक्ष शत्रुघ्न सिंह के मुताबिक, समिति नियमावली ड्राफ्ट तैयार करने के साथ इसे लागू करने के तकनीकी पहलुओं पर काम कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top