राष्ट्रीय

मानसून विधानसभा सत्र के दूसरे दिन पक्ष विपक्ष के विधायकों ने लिया हिस्सा, कई मुद्दों पर हुई चर्चा

दिल्ली।  विधानसभा के दो दिवसीय मानसून सत्र का मंगलवार को दूसरा दिन है। सुबह 11 बजे से शुरू हुई सदन की कार्यवाही में आज भी पक्ष और विपक्ष के विधायकों ने हिस्सा लिया और कई मुद्दों पर चर्चा की।

भ्रष्टाचार के एक मामले में गिरफ्तार किए गए डीटीसी के कुछ अधिकारियों और कर्मचारियों से पूछताछ के आधार पर आम आदमी पार्टी के दो विधायकों का नाम लिए जाने का सदन में कड़ा विरोध हुआ। इस दौरान आप विधायकों ने भाजपा और सीबीआई के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। इस वजह से कार्यवाही को 10 मिनट के लिए स्थगित कर दिया गया।

10 मिनट बाद सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू होने पर विधानसभा अध्यक्ष की ओर से इस मुद्दे पर चर्चा कराने के निर्णय को विपक्ष ने चुनौती दी। विपक्ष ने कहा कि चर्चा न कराने का निर्णय सदन के नियम के तहत गलत है। वहीं विधानसभा अध्यक्ष और सत्तापक्ष ने निर्णय को सही ठहराया। काफी देर तक तर्क वितर्क के बाद विपक्ष शांत नहीं हुआ। लिहाजा विधानसभा अध्यक्ष ने विपक्ष के सभी सदस्य को मार्शल से बाहर निकलवा दिया।

वहीं, आम आदमी पार्टी के विधायक सौरभ भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली के सभी सातों लोकसभा सांसदों व भाजपा के सभी 8 विधायकों की ओर से लिखे गए तमाम पत्रों की जांच होनी चाहिए। उन्होंने भी लोगों के तबादले और नियुक्ति करने संबंधी पत्र लिखे होंगे लिहाजा आम आदमी पार्टी के विधायकों की तरह उनके खिलाफ भी कार्रवाई की पहल होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *