हेल्थ

युवाओं को स्वस्थ रखने के लिए उत्तराखंड की थाली को पास और जंक फूड को दूर करने की जरूरत:- डॉ भट्ट

देहरादून। विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन उत्तराखंड एवं आयुष्मान भारत- हैल्थ एंड वैलनेस सेंटर के तहत ईट राइट इंडिया मूवमेंट के राज्य स्तरीय संवेदीकरण कार्यशाला का आयोजन होटल पैसाफिक में किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि डॉ. शैलजा भट्ट, महानिदेशक, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण द्वारा बताया गया कि गैर संचारी रोगों की कमी को लेकर हमें मौसमी खाद्य पदार्थों और फलों को ग्रहण करना चाहिए जिससे की हम स्वस्थ रहें। युवाओं में जंक फूड को लेकर बढ़ रही प्रवृत्ति पर डॉ. भट्ट ने कहा कि युवाओं को स्वस्थ रखने के लिए उत्तराखंड की थाली यानि स्थानीय खान-पान को बढ़ावा देने की जरुरत है, जिससे कि युवा जंक फूड से दूर रहें।

निदेशक, एन.एच.एम., डॉ. सरोज नैथानी द्वारा ईट राइट इंडिया मूवमेंट की थीम स्वस्थ भोजन, बेहतर जीवन को समझने और इसे एक जीवन पद्धति के रुप में अपनाने की जरुरत बताया, जिससे हम एक स्वस्थ जीवन जी सकते हैं। उन्होंने स्वस्थ्य रहे उत्तराखंड को लेकर भी जोर दिया। ईट राइट इंडिया मूवमेंट पूरे प्रदेश भर में चलाया जाएगा जिसके तहत लोगो को पौष्टिक खाना तथा खान-पान के आदतों पर विशेष बल दिया जाएगा। ताकि भविष्य में होने वाले किसी भी रोग से बचा जा सके। डॉ. नैथानी द्वारा कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग के साथ आयुष, शिक्षा, एकीकृत बाल विकास सेवाएं (आई.सी.डी.एस.), खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफ.डी.ए.), रोटरी इंटरनेशनल, इनर-व्हील क्लब, लायंस, दून क्लब, फिक्की-महिला संगठन, आदि संस्थाओं की सक्रिय भागीदारी अति आवश्यक है।

जी.सी. कंडवाल, उप-आयुक्त, खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफ.डी.ए.) द्वारा बताया गया कि ईट राइट इंडिया मूवमेंट, देश में बीमारी का बोझ कम करने की पहल है जिससे भारत सरकार द्वारा चलाया जा रहा है। इस कार्यक्रम के तहत होटलों में स्वच्छता का ध्यान रख खाने की गुणवत्ता के लिए प्रमाणपत्र जारी किए जाएगें। एफ.डी.ए. द्वारा खाने में मिलावट की जांच कैसे की जाए को लेकर बुकलेट भी दी गई। कार्यक्रम में फोर्टिफाइड फूड को अधिक से अधिक लेने और लोगों के बीच सामाजिक और व्यवहारिक परिवर्तन को लेकर अभियान भी चलाया गया।

कार्यक्रम में डॉ. विद्या शिखा प्रकाश, आयुर्वेदिक चिकित्सक, प्रोफेसर आशा रानी कपूर, प्रोफेसर डी.एस. रावत द्वारा प्रस्तुतिकरण किया गया। कार्यक्रम में राज्य क्रार्यक्रम अधिकारी, एनएसएस, अजय अग्रवाल, शिक्षा विभाग के डॉ. रघुनाथ लाल आर्या, एमकेपी महाविद्यालय की प्रोफेसर गीता बलोदी, कोरोनेशन अस्पताल की सीएमएस डॉ. शिखा जंगपागीं, संयुक्त निदेशक डॉ. डीपी जोशी, रमेश सिंह, योगेन्द्र पांडे, सहित शिक्षा विभाग, पंचायती राज विभाग के अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *